Noida plots rates are red-hot !

नोएडा एक्सपे्रस-वे के किनारे प्रॉपर्टी की हॉट डिमांड
8 Jan 2011,

– रीयल एस्टेट में सेक्टर-93 बी ने मारी सबसे ज्यादा छलांग
– अब लोगों का फोकस पुराने की बजाय नए सेक्टरों पर ज्यादा
विनोद शर्मा ॥ नोएडा
नोएडा एक्सप्रेस-वे के आस-पास प्रॉपर्टी की डिमांड काफी बढ़ गई है। एक्सपे्रस-वे के किनारे बसा सेक्टर-93 बी इस समय सबसे ज्यादा पसंद किया जाने वाला सेक्टर बन गया है। एक साल के अंदर इस सेक्टर ने प्रॉपर्टी के दाम में भारी छलांग मारी है। रीयल एस्टेट एक्सपर्ट्स की मानें तो यहां जनवरी में 8 से 10 हजार रुपये प्रति वर्गमीटर के अंतर पर प्लॉट मिल रहा था, जो बढ़कर अब 60 से 65 हजार रुपये प्रति वर्गमीटर तक पहुंच गया है।

नोएडा शहर में रीयल एस्टेट के दामों को लेकर की गई स्टडी में यह बात सामने आई है। सेक्टर 18 में रीयल एस्टेट के एक्सपर्ट अतुल गौड़ की मानें तो इस समय नोएडा एक्सप्रेस-वे के आस-पास प्रॉपर्टी मांगने वालों की डिमांड सबसे ज्यादा है। यहां नोएडा से ग्रेटर नोएडा रूट की मेट्रो लाइन ने मार्केटिंग बढ़ाई है। इसके अलावा कॉमनवेल्थ गेम्स के दौरान साइक्लिंग के कारण यह एरिया वर्ल्ड लेवल पर सुर्खियों में रहा। इस इवेंट ने इनवेस्टर्स का ध्यान इस स्पॉट की तरफ खींचा है। रीयल एस्टेट के कारोबार पर बारीक निगाहें रखने वाले जगबीर कहते हैं कि सेक्टर 44 में जनवरी 2010 तक 2 से 3 हजार रुपये प्रति वर्गमीटर ही मुनाफा मिल रहा था। यहां अथॉरिटी का आवंटन रेट 39 हजार 600 रुपये प्रति वर्गमीटर के करीब था। अब यहां आवंटी आवंटन मूल्य के अलावा 45 हजार रुपये प्रति वर्गमीटर अतिरिक्त दाम पर अपने प्लॉट बेच रहे हैं। सेक्टर 93 बी में रेट बढ़ने के कारणों के बारे में उनका कहना है कि यहां सीमित तादाद में प्लॉट हैं। लोकेशन के हिसाब से एक तरफ एक्सप्रेस-वे तो दूसरी तरफ मेट्रो की प्रस्तावित लाइन है। इस कारण यहां दाम में अचानक उछाल आया है। वे कहते हैं कि फ्लैटों में प्लॉट की तुलना में दाम नहीं बढ़े हैं। यहां नोएडा अथॉरिटी की सेक्टर 99 और 100 में नई स्कीम का ड्रॉ 10 जनवरी को होने वाला है। इन फ्लैटों के खरीदार मार्केट में आ चुके हैं। वे हर एमआईजी फ्लैट पर 7 से 8 लाख और एचआईजी फ्लैट पर 15 लाख तक का प्रीमियम देने को तैयार हैं।
नोएडा एक्सटेंशन से सटे हिंडन किनारे सेक्टर 122, 70 और 72 में प्लॉट के दामों में भी भारी इजाफा हुआ है, लेकिन यह दर एक्सप्रेस-वे के मुकाबले थोड़ा कम है। सेक्टर 100 में हाई कोर्ट के स्टे के कारण 20 हजार रुपये प्रति वर्गमीटर अतिरिक्त रकम मिल रही थी। अब यह बढ़कर 50 हजार रुपये प्रति वर्गमीटर तक जा पहुंची है।
अथॉरिटी ने साल 2004 से आम आदमी के लिए प्लॉट की कोई स्कीम लॉन्च ही नहीं की है। इसके अलावा साल 2006 में सेक्टर 100 की स्कीम सिर्फ रिजर्व कैटिगरी के लिए आई थी। इसके बाद से कोई स्कीम रिजर्व वालों के लिए नहीं आई है। चूंकि 6 साल से आम आदमी के लिए कोई प्लॉट की स्कीम नहीं आई है इससे डिमांड और सप्लाई के बीच गैप आ गया है।
किसान कोटे के प्लॉट भी भर रहे हैं ऊंचाई
5 पर्सेंट के तहत किसान कोटे से मिल रहे प्लॉट भी खूब पसंद किए जा रहे हैं। क्रिकेट कप्तान महेंद्र सिंह धोनी हाजीपुर गांव में एक प्लॉट इसी कैटिगरी के तहत खरीद चुके हैं। बाहरी लोग इन प्लॉटों को खरीदने में हिचक रहे हैं। इनमें कहीं अवैध कब्जे की जमीन पर ही प्लॉट अलॉट कर दिए गए हैं तो कहीं पर जॉइंट फैमिली के चक्कर में प्लॉट खरीदने के बाद भी उलझे हुए हैं। इसके बावजूद इन प्लॉटों में भारी उछाल आ रहा है।

Source: http://navbharattimes.indiatimes.com/articleshow/7237048.cms

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: