Noida excels in health facilities

हेल्थ फैसिलिटीज के मामले में अव्वल है नोएडा
29 Jan 2011, 0400 hrs IST

प्रवेश सिंह ॥ नोएडा
पिछले साल तक शहर में 636 निजी स्वास्थ्य संस्थान थे। इस बार यह संख्या 748 तक पहुंच गई है, जिनमें 112 नई स्वास्थ्य सुविधाएं शुरू की गई हैं। इनमें 300 बेड की कपैसिटी वाले दो मल्टीस्पेशियलिटी अस्पताल शुरू हुए, जिनमें एक सेक्टर-62 स्थित लाइफलाइन अस्पताल और दूसरा सेक्टर-52 में शुरू हुआ है। अन्य 146 में क्लिनिक और नर्सिंग होम शामिल हैं। फोर्टिस अस्पताल ने यूपी में पहला बोन मैरो ट्रांसप्लांट करने का रेकॉर्ड बनाया। साथ ही यहां पर नवजात शिशुओं के लिए स्पेशल आईसीयू शुरू किया गया। इसके अलावा नोएडा में पहली स्लीप लैब भी खोली गई है। मल्टीपल स्केलोरेसेस बीमारी के इलाज की सुविधा भी शुरू हो गई है। नोएडा में गैरसरकारी संगठन के सहयोग से एंबुलेंस सेवा शुरू की गई, जिसमें 15 एंबुलेंस शुरू हो गई हैं और 35 भी जल्द ही हो जाएंगी।

मेडिकल टूरिजम ने जमाई विदेशों में धाक
एसोचैम की रिपोर्ट के अनुसार नोएडा में मेडिकल टूरिजम तेजी से बढ़ रहा है। फोर्टिस, मेट्रो, कैलाश, और ओजस मेडिकेयर गुडविल अस्पताल में विदेशी मरीजों की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। ओजस मेडिकेयर गुडविल में वर्ल्ड क्लास टेक्नॉलजी पर आधारित गामा नाइफ की सुविधा है। साथ ही यहां पर एयर एंबुलेंस से मरीजों को अस्पताल में लाने की सुविधा भी है। मेडिकल टूरिजम के तहत नोएडा में सबसे ज्यादा हार्ट सर्जरी होती है। पाकिस्तान, इराक, नेपाल, नाइजीरिया, साउथ अफ्रीका, श्रीलंका आदि देशोें से इलाज के लिए आने वाले मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है।
सरकारी स्वास्थ्य सुविधाओं में हुई नई शुरूआत
जच्चा-बच्चा सुरक्षा योजना के तहत गर्भवती महिलाओं के नियमित टीकाकरण और स्वास्थ्य जांच की सुविधा घर पर ही शुरू हुई। स्कूल हेल्थ प्रोग्राम के तहत सरकारी प्राइमरी स्कूलों के बच्चों के लिए स्वास्थ्य जांच कैंपों की योजना शुरू हुई। सलोनी स्वास्थ्य किशोरी योजना के तहत 10 से 19 साल की किशोरियों की स्वास्थ्य जांच के लिए इंटर स्कूलों में योजना शुरू हुई। कॉमनवेल्थ गेम्स की वजह से भंगेल स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को रेनोवेट किया गया। यहां पर स्वास्थ्य जांच के उपकरण बढ़ाए गए। नियमित टीकाकरण के लिए हेल्पलाइन शुरू की गई। पल्स पोलियो अभियान भी पिछले साल भर से सफल रूप से चल रहा है। 2009 में जहां पोलियो के 17 मामले सामने आए थे। वहीं इस बार पिछले 13 महीने से एक भी मामला सामने नहीं आया है। इसके अलावा सेक्टर-24 स्थित केंद्रीय होम्योपैथी रिसर्च सेंटर में बीते साल मरीजों के लिए 25 बेड के वॉर्ड की सुविधा शुरू की गई है। 8 अलग-अलग बीमारियों की दवाओं पर रिसर्च चल रही है जो कि 2011 में पूरी होगी। ओपीडी की संख्या 500 तक पहुंची है। सेक्टर-24 स्थित ईएसआई अस्पताल में ओपीडी 1500 से ज्यादा तक पहुंची है, जबकि पिछले वर्षों में यह संख्या 1000 से नीचे ही रहती थी। सेक्टर-39 में चल रहे 80 बेड के जिला अस्पताल में इस बार 30 बेड की सुविधा और बढ़ा दी गई। इसके अलावा स्पेशल बच्चों की ट्रेनिंग के जिज्ञासा और किशोरियों के लिए जागृति प्रोग्राम शुरू किए गए। स्टाफ में भी इस बार वृद्धि हुई। बच्चेदानी के ऑपरेशन की सुविधा अस्पताल में शुरू हुई। सफल सिजेरियन के मामले जिला अस्पताल में 3 गुना बढ़े। पैथोलॉजी में उपकरणों की व्यवस्था में इजाफा किया गया। वॉर्ड में एंट्री कार्ड सिस्टम शुरू हो गया है और फरवरी से जिला अस्पताल में सरवाइकल कैंसर की जांच शुरू होने जा रही है।
प्रोजेक्ट जिन पर तेजी से चल रहा है काम
– सेक्टर -30 में सुपर मल्टीस्पेशियलिटी अस्पताल इस साल शुरू हो जाएगा। यह अस्पताल 600 करोड़ की लागत से तैयार हो रहा है। 300 बेड के इस अस्पताल को अप्रैल तक शुरू करने की प्लानिंग है।
– ईएसआई का 300 बेड का फुली एसी मल्टीस्पेशियलिटी अस्पताल इस बार शुरू हो जाएगा।
– सेक्टर -31 स्थित आईएमए भवन में रोटरी क्लब के सहयोग से तैयार हो ब्लड बैंक की शुरुआत इस साल होगी। प्रोजेक्ट पूरी तरह तैयार है। बस एनओसी मिलते ही ब्लड बैंक शुरू कर दिया जाएगा।
– होम्योपैथी से संबंधित किसी भी तरह की जानकारी के लिए सेक्टर -24 स्थित होम्योपैथी अनुसंधान केंद्र में एक विशाल संग्राहलय तैयार किया जा रहा है
– भंगेल स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में सरकारी ब्लड बैंक की बिल्डिंग तैयार है। महीने भर में ब्लड बैंक शुरू करने की तैयारी है।
– दनकौर के पास यमुना एक्सप्रेस – वे पर मेडीसिटी योजना प्रस्तावित है। मेट्रो और गलगोटिया समूह यहां पर दो मेडिकल कॉलेज बनाने की योजना पर काम कर रहे हैं। साथ ही यहां पर 5 अत्याधुनिक अस्पताल तैयार होने की योजना भ ी है।

http://navbharattimes.indiatimes.com/delhiarticleshow/7380692.cms

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: